UP Board Solutions for Class 6 Sanskrit Chapter 5 मम विद्यालयः (दीर्घसन्धिः गुणसन्धिश्च)

UP Board Solutions for Class 6 Sanskrit Chapter 5 मम विद्यालयः (दीर्घसन्धिः गुणसन्धिश्च)

These Solutions are part of UP Board Solutions for Class 6 Sanskrit. Here we have given UP Board Solutions for Class 6 Sanskrit Chapter 5 (मम विद्यालयः (दीर्घसन्धिः गुणसन्धिश्च)

शब्दार्थाः –

कति = कितने,
समीचीनम् = बहुत अच्छा,
क्रीडाङ्गम = खेल का मैदान,
संगणककक्षः = कम्प्यूटर कक्ष,
नूतनानि = नयी,
स्यूतः = स्कूल बैग,
पादत्राणं = जूता,
पादकोशः = मोजा।
पाकशाला = रसोईघर,
आत्मानम् = अपने को,
एवं विद्याः = इस प्रकार के,
ते = तुम्हारे,
वर्धयन्ति = बढ़ाते हैं।

उषाः- चेतने!……………………..भवन्ति।
हिंदी अनुवाद – उषा – चेतना! तुम्हारा विद्यालय कहाँ है?
चेतना – मेरा विद्यालय यहीं नगर में है। वहाँ एक सुन्दर पुस्तकालय और खेल का एक विशाल मैदान है।
उषा – अच्छा! तुम्हारे विद्यालय के पुस्तकालय में कैसी पुस्तकें हैं?
चेतनां – मेरे विद्यालय के पुस्तकालय में विविध विषयों की पुस्तकें हैं।
उषा – ठीक है! तुम्हारे विद्यालय में कितने शिक्षक हैं?
चेतना – मेरे विद्यालय में पाँच शिक्षक हैं। वे सब महर्षितुल्य, कर्तव्यपरायण और शिष्यवत्सल हैं।
उषा – क्या वहाँ विद्यालय में उद्यान भी हैं?
चेतना – मेरे विद्यालय में एक सुन्दर उद्यान है, जिसके मनोहर फूल खिलते हैं?
उषा – तुम्हारे विद्यालय में और क्या है?
चेतना – मेरे विद्यालय में संगणक कक्ष भी है।
उषा – ठीक है! तुम्हारे वस्त्र तो नये दिख रहे हैं। कहाँ से लिये है?
चेतना – क्या तुम नहीं जानती हो कि मेरे विद्यालय में सब छात्रों को निःशुल्क पुस्तक, स्यूत, जूते, और वस्त्र दिये जाते हैं।
उषा – तो बहुत अच्छा। ऐसा सुना जाता है कि तुम्हारे विद्यालय में दोपहर का भोजन भी मिलता है? ।
चेतना – तुमने सत्य कहा है। मेरे विद्यालय में प्रतिदिन निःशुल्क भोजन मिलता है इसके लिए एक रसोई है। वहाँ धनेश्वरी, सुशीला और किशोरी-चेति तिस्त्राः भोजन निर्माण कुर्वन्ति।
उषा – बहुत बढ़िया! जो तुम्हारे विद्यालय उत्तम है।
चेतना – हाँ! निश्चित रूप से मेरा विद्यालये उत्तम है। मेरे विद्यालय का परीक्षाफल प्रतिवर्ष श्रेष्ठ होता है। वहाँ पढ़कर मैं अपने आप पर गर्व अनुभव करता हूँ।
उषा – सच! ऐसे विद्यालय ही देश का गौरव बढ़ाते हैं।

अभ्यासः ।

प्रश्न 1. उच्चारणं कुरुत पुस्तिकायां च लिखत –
क्रीडाङ् गणम्, शिष्यवत्सलाश्च, कर्तव्यपरायणाः, मनोहराणि, संगणकम्, बहूत्तमम्।
नोट – विद्यार्थी शिक्षक की सहायता से स्वयं करें।

प्रश्न 2. पूर्ण वाक्येन उत्तरत
                    यथा                                                                              उत्तर
UP Board Solutions for Class 6 Sanskrit Chapter 4 3

प्रश्न 3. सन्धिं कुरुत- (करके)
UP Board Solutions for Class 6 Sanskrit Chapter 4 4

प्रश्न 4. अधोलिखितानि-वाक्यानि एकवचने-परिवर्तयत- (परिवर्तन करके)
UP Board Solutions for Class 6 Sanskrit Chapter 4 5

प्रश्न 5. मजूषातः पदानि चित्वा वाक्यानि पूरयत (पूर्ति करके)
UP Board Solutions for Class 6 Sanskrit Chapter 4 6
(क) विद्यालयः कुत्र अस्ति?
(ख) तत्र एकः सुन्दरः पुस्तकालयः अस्ति।
(ग) उद्याने मनोहराणि पुष्पाणि विकसन्ति ।
(घ) विद्यालये सुन्दरम् उद्यानम् अस्ति।

प्रश्न 6. संस्कृतभाषायाम् अनुवादं कुरुत
UP Board Solutions for Class 6 Sanskrit Chapter 4 7

प्रश्न 7. मम् प्रिय शिक्षकः उपरि वाक्यानि लिखत। (नोटः विद्यार्थी स्वयं करें ।)
शिक्षण-सङ्केतः – नोट – विद्यार्थी शिक्षक की सहायता से स्वयं करें।

We hope the UP Board Solutions for Class 6 Sanskrit Chapter 5 (मम विद्यालयः (दीर्घसन्धिः गुणसन्धिश्च)) help you. If you have any query regarding UP Board Solutions for Class 6 Sanskrit Chapter 5 (मम विद्यालयः (दीर्घसन्धिः गुणसन्धिश्च)), drop a comment below and we will get back to you at the earliest.

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *