UP Board Solutions for Class 4 Hindi Kalrav Chapter 17 बच्चों का पूछताछ केंद्र

UP Board Solutions for Class 4 Hindi Kalrav Chapter 17 बच्चों का पूछताछ

केंद्र

बच्चों का पूछताछ केंद्र शब्दार्थ

नुक्कड़ = नोक, मोड़
पूछताछ केंद्र = जानकारी प्राप्त करने का स्थान
गंभीर-सा = गंभीर जैसा
जिज्ञासा = जानने की इच्छा
तत्परता से = शीघ्रता से, जल्दी।

बच्चों का पूछताछ केंद्र पाठ का सारांश

सड़क के नुक्कड़ पर छोटी-सी दुकान थी। इस पर ‘पूछताछ केंद्र’ लिखा था। इसमें बैठकर एक महिला लोगों के प्रश्नों के उत्तर देती थी। उसके जाने से वह दुकान खाली हो गई।

एक चंचल लड़की चीची ने उस दुकान को ‘बच्चों का’ शब्द लिखकर ‘बच्चों का पूछताछ केंद्र’ बना दिया। थोड़ी देर में दो जुड़वाँ बच्चों ने प्रश्न किया- “यदि पिता जी की घड़ी बच्चों से टूट जाए तो क्या करना चाहिए? चीची का उत्तर था- जब घड़ी नहीं थी, तब कैसे करते थे? एक बच्चे ने पूछा-खरगोश किस प्रकार चिल्लाते हैं? चींची ने उत्तर दिया, “खरगोश धीरे-धीरे बातें करते हैं। उन्हें चिल्लाना पसंद नहीं है। बच्चों की कतार प्रश्न पूछने आ गई। एक लड़की ने पूछा-साधारण कुत्ते को चालाक बनाने के लिए क्या करना चाहिए? चीची ने उत्तर दिया- कुत्ते को स्वयं ही अभ्यास करने दो। बच्चों के प्रश्नों का उत्तर देने में चीची उनसे आगे थी। एक बच्चे ने पूछा- चाँद रात में और सूरज दिन में क्यों रोशनी देता है? चीची ने कहा- यह उनका आपसी समझौता है। भोली ने पूछा-काले भालू को कैसे सफेद बनाया जाए? “धोकर साफ करके”, चीची ने उत्तर दिया। एक बच्चे ने पूछाअगर गणित में कम अंक आएँ, तो कैसे ठीक किया जाए? “उन्हें भाषा में अच्छे अंकों से ठीक किया जा सकता है”, चीची बोली।

एक गंभीर लड़के ने पूछा-बड़ों को सब कुछ करने की स्वतंत्रता है, बच्चों को हर बात के लिए मना किया जाता है, ऐसा क्यों? “बड़ो को भी सब कुछ करने की स्वतंत्रता नहीं है; इसलिए प्रश्न गलत है”, चीची ने कहा। लड़के का अगला प्रश्न था- हवा का घर कहाँ है और वह क्या खाती है? चीची ने सोचकर उत्तर दिया कि यह तो स्वयं हवा को भी नहीं पता है। गोलू ने पूछा रेलगाड़ी आने पर फाटक बंद क्यों किया जाता है? “ताकि रेलगाड़ी सड़क पर ही न आ जाए” चीची ने उत्तर दिया। एक पहलवान लड़का आया। उसने पूछा-क्या तुम तरबूज को एक ही बार में दाँत से काट सकती हो? चीची ने कहा ‘हाँ’। लड़के ने शर्त लगाने को कहा। चीची ने कहा- ‘शर्त लगाती हूँ।’ उसने पूछताछ केंद्र पर, कागज चिपका दिया-‘पूछताछ केंद्र शर्त लगाने के लिए बंद है।’

बच्चों का पूछताछ केंद्र अभ्यास प्रश्न

प्रश्न १.
तुमने अकसर रेलवे स्टेशन,………………………………….. प्रश्न पूछो।
उत्तर:
विद्यार्थी पूछताछ केंद्र बनाएँ और स्वयं प्रश्न करें।

प्रश्न २.
नीचे दो वर्गों के शब्दों को जोड़कर सार्थक शब्द बनाओ।
कक्षा + कक्ष = कक्षाकक्ष
जन्म + भूमि = जन्मभूमि
मातृ + भक्त = मातृभक्त
राष्ट्र + ध्वज = राष्ट्रध्वज
राग + द्वेष = रागद्वेष
युद्ध + वीर – युद्धवीर
चाल + चलन = चालचलन
अध्ययन + शील = अध्ययनशील
वन्य + जीव = वन्यजीव
पाठ्य + पुस्तक = पाठ्यपुस्तक
वीर + भक्त = वीरभक्त
कर्म + वीर = कर्मवीर
चरण + पादुका = चरणपादुका
धर्म + शील – धर्मशील

प्रश्न ३.
नीचे दिए गोले को देखो। इनमें ‘ब’ अक्षर से शुरू होने वाले शब्द दिए गए हैं, जो क्रमशः दो, तीन, चार और पाँच अक्षरों से मिलकर बने हैं।

बलबलाना, बजबजाना, बलवर्धक, बहुआयामी, बड़बड़ाना, बदसूरत, बदहवास, बमवर्षक, बहकाना, बहुभाषी, बहादुर, बँटवारा, बहुभुज, बदलाव, बरगद, बदनाम, बराबर, बलिदान, बदला, बंदर, बढ़ई, बटेर, बाजरा, बेचना, बेचारा, बचाया, बल, बैठा, बंधु, बैल, बम, बेंत, बस, बेर

इसी आधार पर तुम भी लिखो

‘र’ अक्षर से शुरू होने वाले शब्द जो इसी क्रम में क्रमशः दो, तीन, चार और पाँच अक्षरों से मिलकर बने हों।
उत्तर:
दो अक्षरों वाले = रथ, रज, रस, रण, रट, रेखा, राम, रवि, रास।
तीन अक्षरों वाले = राजन, रक्षक, रजत, रसद, रसीद, रेशम।
चार अक्षरों वाले = रेखाचित्र, रामायण, रमणीय, रामचंद्र, रेलगाड़ी रखवाली।
पाँच अक्षरों वाले = रस्साकशी, रासायनिक, रीतिरिवाज, रखरखाव।

इसे तुम खेल की तरह भी खेल सकते हो। कक्षा में अपनी दो टीमें बना लो। अब क्रमशः दो, तीन, चार और पाँच अक्षरों से मिलकर बने शब्दों की अंत्याक्षरी खेलो॥
उत्तर:
विद्यार्थी स्वयं खेलें।

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *